भारत में कोरोना वायरस का पहला कन्फर्म केस मिला.

भारत में कोरोना वायरस का पहला कन्फर्म केस केरल से सामने आया है. त्रिशूर में 20 साल की एक मेडिकल स्टूडेंट कोरोना वायरस से प्रभावित पाई गई है. इस वक्त उसे त्रिशूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अलग-थलग रखा गया है. उसकी हालत स्थिर है. लड़की चीन की वुहान यूनिवर्सिटी की छात्रा है. सात दिन पहले ही भारत वापस आई थी. इस बीच, चीन के वुहान शहर से करीब 400 भारतीयों के अपने देश लाए जाने की तैयारी पूरी हो चुकी है.

‘द इंडियन एक्सप्रेस’ की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल के हेल्थ मिनिस्टर केके शैलजा ने बताया कि चीन से लौटने वाले तीन और लोगों को त्रिशूर में अलग वार्ड में रखा गया है. उन्होंने कहा,

‘कुल 20 सैम्पल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV), पुणे भेजे गए थे. इनमें से 10 निगेटिव पाए गए, लेकिन एक पॉजिटिव पाया गया है.’

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जो लड़की कोरोना वायरस प्रभावित पाई गई है, वो 22 जनवरी को चीन से कोलकाता आई थी. दूसरे दिन वो कोच्चि पहुंची. सीधा अपने घर गई. 25 से 26 जनवरी तक उसे किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं हुई

 कैसे सामने आया केस

27 जनवरी के दिन उसे अपनी तबीयत में कुछ गड़बड़ी महसूस हुई. गले में दिक्कत हुई और फीवर आया. उसने प्राइमरी हेल्थ सेंटर (PHC) में कॉल किया. एंबुलेंस आई और उसे त्रिशूर के ज़िला जनरल अस्पताल ले जाया गया. रात में ही उसके ब्लड सैंपल कलेक्ट कर लिए गए.

केरल के एक अधिकारी ने जानकारी दी कि चीन से लौटने के बाद से लेकर अस्पताल में एडमिट होने तक, लड़की जितने भी लोगों के कॉन्टैक्ट में आई है, उन सबका मेडिकल चेकअप करवाया जाएगा. इनमें वो लोग भी शामिल होंगे, जो उसके साथ एक ही फ्लाइट में चीन से कोलकाता आए थे. भले ही उनके अंदर किसी तरह की कोई बीमारी का कोई लक्षण नजर नहीं आ रहा

कोराना वायरस को लेकर केंद्र की हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर मिनिस्ट्री ने एक स्टेटमेंट जारी किया था. कहा था कि 15 जनवरी के बाद से जो भी भारतीय चीन से अपने देश लौट रहाे हैं, उनका चेकअप किया जाएगा. अभी तक 234 फ्लाइट से लौटने वाले 43,343 यात्रियों का चेकअप किया जा चुका है.

# चीन में कोरोना वायरस के 7 हज़ार से ज्यादा केस

30 जनवरी, 2020 की तारीख तक चीन में कोरोना वायरस के 7,711 केस सामने आ चुके हैं. इनमें से 1,370 केस काफी सीरियस हैं. 170 लोगों की मौत हो चुकी है. 124 लोगों को ठीक करके डिस्चार्ज किया जा चुका है. वहीं 12,167 मामले अभी संदिग्ध श्रेणी में हैं.

# चीन के बाहर कितने मामले?

थाइलैंड में कोरोना वायरस के 14, सिंगापुर में 10, ऑस्ट्रेलिया में 5, यूएस में 5, जापान में 8, साउथ कोरिया में 4, मलेशिया में 7, फ्रांस में 4, वियतनाम में 2, कनाडा में 2, नेपाल, कंबोडिया, श्रीलंका, जर्मनी और भारत में 1-1 मामले सामने आए हैं.

27 जनवरी तक कोरोना वायरस के दुनियाभर में कन्फर्म मामले 2,798 थे. तीन दिन के अंदर ही ये आंकड़ा 7 हजार पार हो गया. यानी दोगुने से भी ज्यादा.

# मलयेशिया में भारतीय की कोरोना से मौत!

त्रिपुरा के सेपहिजला ज़िले से एक खबर आई थी. दावा किया गया था कि सेपहिजला का 23 साल का मोनिर हुसैन मलयेशिया के एक होटल में वेटर के तौर पर काम कर रहा था. कोरोना वायरस की चपेट में आने की वजह से उसकी मौत हो गई है. मोनिर के परिवार की तरफ से ये बात कही गई थी. हालांकि इस बात को त्रिपुरा की सरकार ने खारिज कर दिया है. ‘द हिंदू’ की रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य सरकार के एक अधिकारी ने कहा है कि मलयेशिया सरकार की तरफ से इस खबर की पुष्टि नहीं हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *